जब तक हम अपनी पुरानी गलतियों

*जब तक हम अपनी पुरानी गलतियों
को छोड़ने का साहस अपने भीतर पैदा नहीं करेंगे,*

*नई प्रगति की किरण हमारे जीवन में प्रवेश नहीं कर पाएगी ।*