क्रोध से मूढ़ता उत्पन्न होती है,

क्रोध से मूढ़ता उत्पन्न होती है,
मूढ़ता से स्मृति भ्रांत हो जाती है, स्मृति भ्रांत हो जाने से बुद्धि का नाश हो जाता है और भ्द्धि नष्ट होने पर प्राणी स्वयं नष्ट हो जाता है।