समझनी है जिंदगी तो पीछे

*समझनी है जिंदगी तो पीछे देखो,*         
*जीनी है जिंदगी तो आगे देखो .....*


   *हम भी वहीं होते हैं,*
  *रिश्ते भी वहीं होते हैं*
*और रास्ते
भी वहीं होते हैं*                       
     *बदलता है तो बस...*                   
*समय, एहसास, और नज़रिया...!!*

      
Sponsored ads.

No comments

Powered by Blogger.