Wednesday, October 31, 2018

अगर आपको ख़ुशी

,
अगर आपको ख़ुशी
मिलती है तो लोग ईर्ष्या करेंगे। फिर भी आप खुश रहिये।

हम किसी गलत इंसान से प्रेम कर सकते

,
हम किसी गलत इंसान से प्रेम
कर सकते हैं, गलत इंसान के लिए रो सकते हैं.लेकिन

 एक बात पक्की है; हमारी गलतियाँ हमें सही इंसान तक पहुँचने में हमारी मदद करती हैं.

Tuesday, October 30, 2018

अगर आपको ख़ुशी मिलती

,
अगर आपको ख़ुशी मिलती है तो लोग ईर्ष्या करेंगे। फिर भी आप खुश
रहिये।

Monday, October 29, 2018

आत्मज्ञान का सम्पादन करना

,
आत्मज्ञान का सम्पादन करना और आत्मकेंद्र में सिथर रहना मानवमात्र
का सबसे पहला और मुख्य कर्तव्य है |

जो सम्मान से कभी गर्वित

,
*जो सम्मान से कभी गर्वित नहीं होते,*
*अपमान से क्रोधित नहीं होते,*
*और..*
*क्रोधित
होकर भी जो कभी*
*कठोर नहीं बोलते,*

*वास्तव में वे ही “श्रेष्ठ” होते हैं.*


Saturday, October 27, 2018

धन या बल या सामाजिक

,
धन या बल या सामाजिक प्रतिष्ठा से सफलता का आंकलन नहीं किया जाता.बल्कि

अनुशासन
और आपकी आन्तरिक शांति से ही आपकी सफलता आंकी जाती है.

Thursday, October 25, 2018

क्या खूब लिखा है किसी ने*

,
                 *‼ जय श्री कृष्णा ‼*
        👌🏿 *क्या खूब लिखा है किसी ने*
*बीते कल का अफसोस और आने वाले कल की चिन्ता,*
                    *दो ऐसे चोर हैं..*
*जो हमारे आज की खूबसूरती
को चुरा ले जाते हैं।*
               *""सदा मुस्कुराते रहिये""*
                   *🌹सुप्रभात*🌹

Wednesday, October 24, 2018

कल जितना "भरोसा" था*

,
🍁✒🍁✒🍁✒🍁✒🍁✒🍁

        *"रिश्ता" ऐसा हो*
       *जिस पर नाज़ हो,*
  *कल जितना "भरोसा" था*
      *उतना ही आज हो,....!*
   *"रिश्ता" सिर्फ वो नहीं जो*
  *"ग़म या ख़ुशी" में साथ दे,*
 *"रिश्ते" तो वो हैं जो हर पल*
   *अपनेपन
का एहसास दें!*
  *🌺🙏शुभप्रभात🌺🙏*
🍁✒🍁✒🍁✒🍁✒🍁✒🍁
༺꧁ Զเधॆ Զเधॆ꧂༻

   💕 जय श्री कृष्ण जी 💕

कौन है,* *जिसमें कमी नहीं है.*

,
*कौन है,*
*जिसमें कमी नहीं है.*

*आसमां
के पास भी,*
*ज़मीं नहीं है.*  *

Tuesday, October 23, 2018

कोई व्यक्ति , चाहे पुरुष

,
कोई  व्यक्ति , चाहे पुरुष
हो या महिला , जिसे एक अच्छा उपन्यास पढने में आनंद ना आये , वो निश्चित रूप से बहुत मूर्ख होगा .

दर्द सबके एक है,

,
*दर्द सबके एक है,*
*मगर हौंसले
सबके अलग अलग है,*

*कोई हताश हो के बिखर गया*
*तो कोई संघर्ष करके निखर गया !* 

Monday, October 22, 2018

अपनी क्षमता को पहचानकर

,
अपनी  क्षमता   को  पहचानकर
 और  उस पे  विश्वास  कर  के  कोई  एक  बेहतर  दुनिया  बना  सकता  है.

ईश्वर कहते है.*

,
🙏🏻🌹🙏🏻

           *ईश्वर कहते है.*
  किसी को तकलीफ़ देकर मुझसे
  अपनी ख़ुशी की दुआ
मत करना
                 *लेकिन...*
 अगर किसी को एक पल की भी
             ख़ुशी देते हो तो
          अपनी तकलीफ़ की
             फ़िक्र मत करना।

          हवाएं मौसम का रुख
                 बदल देती है
         और दुआएं मुसीबत का.

      🌿 *जय श्री कृष्णा*🌿

                              

Sunday, October 21, 2018

जिंदगी के इस *रण* में

,
.
    जिंदगी
के इस *रण* में
      खुद ही *कॄष्ण* और
खुद ही *अर्जुन* बनना पड़ता है
      रोज अपना ही सारथी
         बनकर जीवन की
          *महाभारत* को
         लड़ना पड़ता है।।

🙏🙏🙏🏻શુભ સવાર🙏🏻🙏🙏

       *|| कृष्णम् वंदे जगद्गुरु ||*

Saturday, October 20, 2018

धन कहता मुझे जमा कर* ...

,
🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏

*धन कहता मुझे जमा कर* ....
      *कैलेंडर कहता है मुझे पलट...*
      *समय कहता हैं मुझे प्लान कर...*
       *भविष्य
कहता हैं मुझे जीत....*
       *सुंदरता कहती हैं मुझे प्यार कर....*
                   *लेकिन*
        *भगवान साधारण शब्दों मैं कहता हैं...*
        *"कठिन मेहनत कर मुझ पर विश्वास कर!!!..*

        🙏 *सुप्रभात* 🙏
  *आपका दिन मंगलमय हो*
              🌹💐💐💐🌾

Friday, October 19, 2018

होकर मायूस न यूँ*

,
🐾☀🐾
*✍🏻होकर मायूस न यूँ*
*शाम की तरह ढलते रहिये*
*जिंदगी एक भोर है*
*सूरज
की तरह निकलते रहिये*🍀🍀🍀🍀🍀
*ठहरोगे एक पाँव पर तो थक जाओगे*
*धीरे धीरे ही सही मगर*
*लक्ष्य की ओर चलते रहिये।*🍀🍀🍀🍀🍀
       *"🌹हँसते रहिये हंसाते रहिये🌹"*
           
              *"सुप्रभात"*         

*आपका दिन सुखमय और मंगलमय हो।*🙏

आओ, शिकायतें कम और

,


आओ, शिकायतें कम और
शुक्रिया
ज़्यादा अदा करें,

ये ज़िंदगी हैं आसान,
इसे जिंदादिली से जिया करें


Wednesday, October 17, 2018

सुलझा हुआ मनुष्य वह है,

,
*सुलझा हुआ मनुष्य वह है,*
     *जो अपने निर्णय स्वयं करता है,*
           *और...*
     *उन निर्णयो के परिणाम
के लिए किसी दूसरे को दोष नही देता..!*

       *शुभप्रभात*

Tuesday, October 16, 2018

बदलना‘, तय है हर चीज़ का इस

,
✍🏻
*‘‘बदलना‘, तय है हर चीज़ का इस संसार में...*

*बस थोड़ा इंतजार
करो*
*किसी का ‘दिल‘ बदलेगा,*
*तो किसी के ‘दिन‘ बदलेंगे ..*
         🙏🏻🙏🏻
    

क्रोध और आंधी दोनों बराबर होते है

,
💐🌲🙏🏻 *प्रातःप्रणाम
*🙏🏻🌲💐
*क्रोध और आंधी दोनों बराबर होते है.!*

*शांत होने के बाद ही पता चलता है की कितना नुकसान हुआ है.!*
*इसलिए हमेशा मुस्कुराते रहिये।*
      _*🙏🌹शुभ प्रभात🌹🙏*_
_*🙏🌹आपका दिन शुभ हो🌹🙏*_

Monday, October 15, 2018

अच्छा वक़्त सिर्फ उसीका होता है

,


*अच्छा वक़्त सिर्फ उसीका होता है,​.*
*..​जो कभी किसी का बुरा नहीं सोचते !!​*

*​सुख दुख
तो अतिथि है,​.*
.   *​बारी बारी से आयेंगे चले जायेंगे..​*

*​यदि वो नहीं आयेंगे तो हम​*
       *​अनुभव कहां से लायेंगे।​*

धन कहता मुझे जमा कर

,
🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏

*धन कहता मुझे जमा कर* ....
      *कैलेंडर कहता है मुझे पलट...*
      *समय कहता हैं मुझे प्लान कर...*
       *भविष्य कहता हैं मुझे जीत....*
       *सुंदरता कहती हैं मुझे प्यार कर....*
                   *लेकिन*
        *भगवान
साधारण शब्दों मैं कहता हैं...*
        *"कठिन मेहनत कर मुझ पर विश्वास कर!!!..*

        🙏 *सुप्रभात* 🙏
  

Sunday, October 14, 2018

यदि आप दूसरों को प्रसन्न

,
यदि आप दूसरों को प्रसन्न देखना चाहते हैं तो करुणा का भाव रखें।  यदि आप स्वयं प्रसन्न रहना चाहते हैं तो भी करुणा
का भाव रखें।

क्रोध से मूढ़ता उत्पन्न होती है,

,
क्रोध से मूढ़ता उत्पन्न होती है,
मूढ़ता से स्मृति भ्रांत हो जाती है, स्मृति भ्रांत हो जाने से बुद्धि का नाश हो जाता है और भ्द्धि नष्ट होने पर प्राणी स्वयं नष्ट हो जाता है।

दर्द भी वही देते हैं

,
*दर्द भी वही देते हैं , जिन्हे हक दिया जाता हो...*

*वर्ना गैर तो धक्का लगने पर भी , माफी माँग लिया करते हैं...*
           
          *ये व्यक्तित्व
की गरिमा है*
    *कि फूल कुछ नही कहते*

*वरना कभी कांटों*
    *को मसलकर दिखाईये*....

आंखे कितनी भी छोटी

,
🌺🙏🏻🌺
आंखे कितनी भी छोटी क्यो ना हो !!
       ताकत तो उसमे सारा
            आसमान
देखने
               की होती है   
        ज़िन्दगी एक हसीन
    ख़्वाब है ,, ,, जिसमें जीने
      की चाहत होनी चाहिये
          ग़म खुद ही ख़ुशी
           में बदल जायेंगे
                  सिर्फ
                 मुस्कुराने
                     की
                   आदत
               *होनी चाहिये

Friday, October 12, 2018

ईमानदारी एक सक्रीय

,
ईमानदारी एक सक्रीय
क्रिया है न एक निष्क्रिय संज्ञा .सच्चा बनाने के लिए अपने राह से

 बहार आओ और जो बात आप अपने आप से करते हैं उससे शुरुआत करो.

Thursday, October 11, 2018

यदि आप दूसरों की मदद

,
यदि आप दूसरों की मदद कर सकते हैं, तो अवश्य करें; यदि नहीं कर सकते हैं तो कम से कम उन्हें नुकसान
नही पहुचाइए।

क्रोध से मूढ़ता उत्पन्न होती है,

,
क्रोध से मूढ़ता उत्पन्न होती है, मूढ़ता से स्मृति भ्रांत हो जाती है, स्मृति भ्रांत हो जाने से बुद्धि
का नाश हो जाता है और भ्द्धि नष्ट होने पर प्राणी स्वयं नष्ट हो जाता है। 

वस्तुएं बल से छीनी

,
वस्तुएं बल से छीनी या धन से खरीदी जा सकती हैं, किंतु ज्ञान केवल अध्ययन
से ही प्राप्त हो सकता है |

Tuesday, October 9, 2018

और सनातन संस्कृति

,
और सनातन संस्कृति की सबसे शूरवीर
नारियों में अपना नाम रखने वाली ..
ब्राह्मणी रानी लक्ष्मी बाई …
उसको भी अंत समय
में भागना ही पडा….अपने
पुत्र को पीठ पर बाँध कर भागी थी वो …

‪छोटी उंगली पर पूरा

,
‪छोटी उंगली पर पूरा गोवर्धन पर्वत उठाने वाले श्री कृष्ण...
बाँसुरी दोनों हाथों से पकड़ते है..

बस इतना ही अंतर है
*पराक्रम
* और *प्रेम* में..!
  

Monday, October 8, 2018

अपरिपक्व प्रेम कहता है

,
अपरिपक्व प्रेम
कहता है: मैं तुमसे प्यार करता हूँ क्यूंकि मुझे तुम्हारी जरूरत है.परिपक्व

 प्रेम कहता है: मुझे तुम्हारी जरूरत है क्यूंकि मैं तुमसे प्यार करता हूँ.

अपने क्या कहा लोग भूल जायेंगे

,
अपने क्या कहा लोग भूल जायेंगे ; आपने क्या किया ये भी लोग भूल जायेंगे , लेकिन आपने लोगों को कैसा महसूस
कराया , ये वो कभी नहीं भूलेंगे. 

Sunday, October 7, 2018

ज़िंदगी तो सभी के लिए

,
*💞ज़िंदगी तो सभी के लिए*
    *एक रंगीन किताब है ..!*
            *फर्क बस इतना है कि,*
            *कोई हर पन्ने को दिल से*
           *पढ़ रहा है; और*
            *कोई दिल रखने के लिए*
            *पन्ने पलट रहा है।*
    *हर पल में प्यार है*
    *हर लम्हे में ख़ुशी है ..!*
           *खो दो तो यादें हैं,*
           *जी लो तो ज़िंदगी
है💞*
   💕 

हर किसी के लिए दुआ

,
*🥀💞🥀हर किसी के लिए दुआ*
                 *किया करो*
                 *क्या पता*
             *किसी की किस्मत*
        *तुम्हारी दुआ का इंतजार
*
                  *कर रही हो🥀💞🥀*
    

अच्छे किरदार,

,
*अच्छे किरदार,*
*अच्छे संस्कार
, और*
*अच्छे  लोग,*
*हमेशा साथ रहते हैं.....*
*दिलों में भी...*         
*शब्दों में भी...  और*
*दुआओं में भी..!!*
🙏🏼  *शुभप्रभात*  🙏🏼

Saturday, October 6, 2018

जब दूसरे व्यक्ति सोए हों

,
जब दूसरे व्यक्ति सोए हों
, तो उस समय अध्ययन करें; उस समय कार्य करें जब दूसरे व्यक्ति अपने समय को नष्ट करते हैं; उस समय तैयारी करें जब दूसरे खेल रहे हों; और उस समय सपने देखें जब दूसरे केवल कामना ही कर रहे हों। 

Friday, October 5, 2018

कोई व्यक्ति , चाहे पुरुष हो

,
 कोई  व्यक्ति , चाहे पुरुष हो
या महिला , जिसे एक अच्छा उपन्यास पढने में आनंद ना आये , वो निश्चित रूप से बहुत मूर्ख होगा .

Thursday, October 4, 2018

रिश्ते कभी जिंदगी

,
💞 *रिश्ते कभी जिंदगी के* 
             *साथ साथ
*
             *नहीं चलते..!!*

💞 *रिश्ते एक बार बनते है*
             *फिर जिंदगी*
      *रिश्तो के साथ साथ*
        *चलती* *है*....!!!!

   

महफिल थी दुआओं की

,
*महफिल  थी दुआओं की,*
*तो मैंने भी एक दुआ मांग ली...!*😊

*मेरे अपने सदा खुश रहें,* 
*मेरे साथ
भी, मेरे बाद भी..!*
  *🌹💐शुभ दिन!💐🌹*
         

उम्मीद कभी हमें

,
*उम्मीद
कभी हमें*
*छोड़ कर नहीं जाती ..!!*
          *बल्कि..,*
*जल्दबाजी में हम ही*
*उसे छोड़ देते हैं ..!!!*
🌹

Wednesday, October 3, 2018

आदतें अलग है हमारी.

,


        *आदतें अलग है हमारी..,*
            *दुनिया वालो से..!*

           *कम दोस्त रखते है..,*
       *मगर लाजवाब रखते है..!*

 *क्योंकि बेशक हमारी माला छोटी है..*
  *पर फूल
उसमें सारे गुलाब रखते है.....!!!!*


समझनी है जिंदगी तो पीछे

,
*समझनी है जिंदगी तो पीछे देखो,*         
*जीनी है जिंदगी तो आगे देखो .....*


   *हम भी वहीं होते हैं,*
  *रिश्ते भी वहीं होते हैं*
*और रास्ते
भी वहीं होते हैं*                       
     *बदलता है तो बस...*                   
*समय, एहसास, और नज़रिया...!!*

      

मुस्कुराओ क्या गम है

,
*☺मुस्कुराओ क्या गम है,*
*जिंदगी में टेंशन
किसको कम है,*
*अच्छा या बुरा तो केवल* *भ्रम है,*
*जिंदगी का नाम ही*
*कभी खुशी😇कभी😞गम है ❣!*       

    

हम तो खुशियाँ उधार देने

,
✍✍✍✍
🌴 *हम तो खुशियाँ
उधार देने का*
           *कारोबार करते हैं,साहब*!
*कोई वक़्त पे लौटाता नहीं*
           *इसीलिए घाटे में चल रहे हैं....*💔
                                                                                                                            *जिंदगी के सफर से बस इतना ही सबक सीखा है* ..
*सहारा कोई - कोई ही देता है धक्का देने को हर शख्स तैयार बैठा है*..🌴🎯
                  

याद रखें..परमात्मा

,
🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺

*याद रखें..परमात्मा
कभी भाग्य नहीं लिखता....*

*जीवन के हर कदम पर हमारी सोच,हमारे बोल एवं हमारे कर्म हि हमारा भाग्य लिखते हैं.....*

🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺

  

Monday, October 1, 2018

और सनातन संस्कृति

,
और सनातन संस्कृति
की सबसे शूरवीर
नारियों में अपना नाम रखने वाली ..
ब्राह्मणी रानी लक्ष्मी बाई …
उसको भी अंत समय में भागना ही पडा….अपने
पुत्र को पीठ पर बाँध कर भागी थी वो …

सभी के साथ विनम्र

,
सभी  के  साथ  विनम्र  रहे, पर  कुछ  ही  के  साथ  अन्तरंग  हों, और  इन  कुछ  को  अपना  विश्वास
  देने  से  पहले  अच्छी  तरह  परख  लें.
 

Shayaribazar Copyright © 2011 | Template design by O Pregador | Powered by Blogger Templates