आपकी अच्छाई आपके

आपकी अच्छाई आपके मार्ग में बाधक है, इसलिए अपनी आँखों को क्रोध
से लाल होने दीजिये, और अन्याय का मजबूत हाथों से सामना कीजिये”