Monday, September 10, 2018

याद आना

,
*"याद आना"* और
*"याद करना"*
दोनों अलग अलग बातें है,
*याद* हम उन्हें करते है,
         *जो हमारे अपने होते है*
और *याद
* उन्हें आते है,
       *जो हमें अपना समझते है*

    🌹💐।। 🙏🏻 *सुप्रभात* 🙏🏻।।🌹💐

0 coment�rios to “याद आना”

Post a Comment

 

Shayaribazar Copyright © 2011 | Template design by O Pregador | Powered by Blogger Templates