किन विषयों पर लिखना

किन विषयों पर लिखना पसंद है? निसंदेह 'प्रेम और धर्म'. पर जिस दिन धर्म प्रेम बन जाएगा और प्रेम
धर्म, उस दिन लिखने की जरुरत भी ना रहेगी. उस दिन बस इन्हें जी भर के जीया जाएगा.