Tuesday, August 14, 2018

स्वतंत्रता दिवस के पावन

,
*🚩मैं स्पष्ट रूप से यह चित्र देख रहा हूं कि भारतमाता अखण्ड होकर फिर से विश्वगुरू के सिंहासन पर आरूढ है...!!*

*-अरविन्द घोष*

*🇮🇳"स्वतंत्रता दिवस के पावन
अवसर पर आप और आपके परिवार को हार्दिक शुभकामनाएं...!!*

🇮🇳 🇮🇳🇮🇳🇮🇳

*इस कदर वाकिफ है मेरी कलम मेरे जज्बातों से अगर में इश्क लिखना भी चाहूँ तो इंकलाब लिखा जाता है !!*

🇮🇳🇮🇳🇮🇳 *भारत माता की जय*🇮🇳🇮🇳🇮🇳

0 coment�rios to “स्वतंत्रता दिवस के पावन”

Post a Comment

 

Shayaribazar Copyright © 2011 | Template design by O Pregador | Powered by Blogger Templates