Friday, August 24, 2018

माता-पिता

,


*माता-पिता
की नसीहत सबको बुरी लगती है, पर माता पिता की वसीयत सबको अच्छी लगती है...!!*
*घर में _मां "सब"_ का मन रखतीहै*
  *लेकिन"सब" भूल जाते हैं की " माँ " भी एक मन रखती है*


0 coment�rios to “माता-पिता”

Post a Comment

 

Shayaribazar Copyright © 2011 | Template design by O Pregador | Powered by Blogger Templates