Wednesday, August 8, 2018

फलदार पेड़ और गुणवान

,

*🍃"फलदार पेड़ और गुणवान*
        *व्यक्ति ही झुकते है,*
*सुखा पेड़ और मुर्ख*
        *व्यक्ति कभी नहीं झुकते ।*
*कदर किरदार की होती है*
     *… वरना…कद में तो साया भी*
*इंसान से बड़ा होता है..!!"*...


                ¸.•*""*•.¸
              *🌹💐🌹*
       *""सदा मुस्कुराते रहिये""*
         

0 coment�rios to “फलदार पेड़ और गुणवान”

Post a Comment

 

Shayaribazar Copyright © 2011 | Template design by O Pregador | Powered by Blogger Templates