Sunday, July 22, 2018

याद आना"*

*"याद आना"* और
*"याद करना"*
दोनों अलग अलग बातें है,
*याद* हम उन्हें करते है,
         *जो हमारे अपने होते है*
और *याद* उन्हें आते है,
       *जो हमें अपना समझते है*

    🌹💐।। 🙏🏻 *सुप्रभात* 🙏🏻।।🌹💐

0 coment�rios:

Post a Comment

Total Pageviews

Categories

Menu :

Developed By Mukesh Galchar - The Freshgujarat