Friday, July 27, 2018

जीवन में किसी को रुलाकर

,
*जीवन में किसी को रुलाकर*
    *हवन भी करवाओगे तो*
       *कोई फायदा नहीं*

 *और अगर रोज किसी एक*
*आदमी को भी हँसा दिया तो*
             *मेरे दोस्त*
     *आपको अगरबत्ती भी*
   *जलाने की जरुरत नहीं*

           *कर्म ही असली भाग्य है*
 •●‼ *आपका दिन शुभ हो* ‼●•
             🌿🌺💐🌺🌿
                     🙏  🙏

0 coment�rios to “जीवन में किसी को रुलाकर”

Post a Comment

 

Shayaribazar Copyright © 2011 | Template design by O Pregador | Powered by Blogger Templates