Tuesday, July 31, 2018

भक्ति जब बुद्धि से होती है तो

,
*भक्ति जब बुद्धि से होती है तो,*

*हमारी जुबान सुधरती है।*


*लेकिन भक्ति जब दिल से होती है तो,*

*हमारे कर्म सुधरते हैं ।।*
      *सुप्रभात*

0 coment�rios to “भक्ति जब बुद्धि से होती है तो”

Post a Comment

 

Shayaribazar Copyright © 2011 | Template design by O Pregador | Powered by Blogger Templates