Friday, July 27, 2018

ख़ुशी पैसों पर नहीं

,
✍ *ख़ुशी पैसों पर नहीं,*
*परिस्थितियों पर निर्भर करती है I*
*एक बच्चा गुब्बारा ख़रीद कर ख़ुश था,*
*तो दूसरा उसे बेच कर..!!!* 🎭


🌿🌿
*आपकी खुशियों में वो लोग शामिल होते है जिन्हें आप चाहते है,*
*लेकिन आपके दुःख में वो लोग शामिल होते है जो आपको चाहते है ।*
                               
 💐प्यारी सुबह का 💐
                  🙏 मीठा मीठा नमस्कार 🙏
आपका आज का दिन शुभ व मंगलमय हो
💐🌹🌿🍁🌾🌹🌹🌿🍁🌾💐

0 coment�rios to “ख़ुशी पैसों पर नहीं”

Post a Comment

 

Shayaribazar Copyright © 2011 | Template design by O Pregador | Powered by Blogger Templates