फलदार पेड़ और गुणवान

*🍃"फलदार पेड़ और गुणवान*
        *व्यक्ति ही झुकते है,*
*सुखा पेड़ और मुर्ख*
        *व्यक्ति कभी नहीं झुकते ।*
*कदर किरदार की होती है*
     *… वरना…कद में तो साया भी*
*इंसान से बड़ा होता है..!!"🍃.*                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                               
🙏🏽आपका दिन मंगलमय रहे🙏🏽