मिलो किसी से ऐसे कि*

☘🍁🌾☘🍁🌾☘🍁🌾☘🍁
              *मिलो किसी से ऐसे कि*
                 *ज़िन्दगी भर की*
                *पहचान बन जाये,*
          *पड़े कदम जमीं पर ऐसे कि*
                 *लोगों के दिल पर*
                 *निशान बन जाये..*
              *जीने को तो ज़िन्दगी*
            *यहां हर कोई जी लेता है,*
                      *लेकिन.....*
             *जीयो ज़िन्दगी ऐसे कि*
            *औरों के लब की मुस्कान*
                    *बन जाये ...🖊*