Thursday, May 31, 2018

शब्द शब्द बहु अंतरा

,
*शब्द शब्द बहु अंतरा, शब्द के हाथ न पांव।*
*एक शब्द करे औषधि, एक शब्द करे घाव।।*

*शब्द सम्भाले बोलिये, शब्द खीँचते ध्यान।*
*शब्द मन घायल करे, शब्द बढाते मान।।*

*शब्द मुँह से छूट गया, शब्द न वापस आय।*
*शब्द जो हो प्यार भरा, शब्द ही मन मेँ समाएँ।।*

            *सुप्रभात*🙏🏻🚩

फलदार पेड़ और गुणवान

,

*🍃"फलदार पेड़ और गुणवान*
        *व्यक्ति ही झुकते है,*
*सुखा पेड़ और मुर्ख*
        *व्यक्ति कभी नहीं झुकते ।*
*कदर किरदार की होती है*
     *… वरना…कद में तो साया भी*
*इंसान से बड़ा होता है..!!"*...


                ¸.•*""*•.¸
              *🌹💐🌹*
       *""सदा मुस्कुराते रहिये""*
         🌞 *शुभ प्रभात*  

ध्यान का अर्थ है,

,
*ध्यान का अर्थ है,*
       *भीतर से मुस्कुराना~*
                *और~*
 *सेवा का अर्थ है,*
      *इस मुस्कुराहट को*
      *औरों तक पँहुचाना..!!!*

*सुप्रभात*
*स्नेह वंदन*

इन्सान कर्म करने मे मनमानी कर

,
*इन्सान कर्म करने मे मनमानी कर सकता है*
*पर फल भोगने मे नही*।

*सुप्रभात*

माफ़ी वही दे सकता है

,
✍✍✍💐💐
*माफ़ी वही दे सकता है जो अंदर से मज़बूत हो,,,,,*
*खोखले इंसान सिर्फ बदले की आग में जलते रहते है....!!*

*रिश्तों को बचाइए क्योंकि आज इतना अकेला हो गया है इन्सान' कि 'कोई फोटो लेने वाला ही नही!'*
*'सेल्फी लेनी पड़ती है'*
*'जिसे लोग फैशन मानते है!'*


कौन किसी से क्या लेता है,

,
*👑💫.          💫👑*
❤ *कौन  किसी  से  क्या  लेता  है,*
*कौन  किसी  को  क्या  देता   है*..

 🌹 *थोडा  सा  हँस  लेते  है* ,
*थोडा  सा  हँसा  देते  है*
*दोस्ती  मे  यही  तो  होता है*  🌹
😄     *हँसना और हँसाना कोशिश*
                      *है मेरी* ,
          *हर कोई खुश रहे, यह चाहत*
                      *है मेरी* ,
           *भले ही मुझे कोई याद करे*
                 *या ना करे* ,
             *लेकिन हर अपने को याद*
          *करना  आदत है  मेरी*                                     
             

स्वतःच्या गरीबीची लाज कधीच

,
*💐स्वतःच्या गरीबीची लाज कधीच*
  *वाटू देवू नका कारण पैसा कमी असला तरी*
      *आपल्या आई वडीलांची मेहनत कधीच कमी नव्हती..*
   💐💐
: *मनातलं जाणणारी 'आई' आणि भविष्य ओळखणारा 'बाप' हेच या जगातील एकमेव ज्योतिषी आहेत !!*
   
      🌹 *शुभ सकाळ*🌹

Wednesday, May 30, 2018

हम आज भी दिल का आशियाना

,
हम आज भी दिल का आशियाना सजाने से डरते हैं,
बागों में फूल खिलाने से डरते हैं,
हमारी एक पसंद से टूट जाएँगे हज़ारों दिल,
 तभी तो हम आज भी गर्लफ्रेंड बनाने से डरते हैं.

जिंदगी के किसी मोड़ पर

,
जिंदगी के किसी मोड़ पर अगर वो लौट भी आये तो क्या है,
वो लम्हात, वो जज्बात, वो अंदाज, तो ना अब लौटेंगे कभी…
क्योंकि हर किसी के नसीब में कहाँ लिखी हैं चाहतें,
कुछ लोग दुनिया में आते हैं सिर्फ बदनाम करने के लिए…..

टूटे हुए प्याले में जाम नहीं आता

,
टूटे हुए प्याले में जाम नहीं आता

इश्क़ में मरीज को आराम नहीं आता

ये बेवफा दिल तोड़ने से पहले ये सोच तो लिया होता

के टुटा हुआ दिल किसी के काम नहीं आता …

गुलाम बनकर जिओगे तो.

,
गुलाम बनकर जिओगे तो.
कुत्ता समजकर लात मारेगी तुम्हे ये दुनिया
नवाब बनकर जिओगे तो,
सलाम ठोकेगी ये दुनिया….
दम कपड़ो में नहीं,
जिगर में रखो….
बात अगर कपड़ो में होती तो,
 सफ़ेद कफ़न में,
लिपटा हुआ मुर्दा भी सुल्तान मिर्ज़ा होता

हम आज भी शतरंज़ का

,
हम आज भी शतरंज़ का खेल
अकेले ही खेलते हे ,
क्युकी दोस्तों के खिलाफ चाल
चलना हमे आता नही ..।

अकल कितनी भी तेज ह़ो

,
अकल कितनी भी तेज ह़ो
नसीब के बिना नही जित सकती ,
बिरबल काफी अकलमंद होने के बावजूद..
कभी बादशाह नही बन सका ।

नींद मुझे न आती है तो कैसे तुम सो जाते हो,

,
नींद मुझे न आती है तो कैसे तुम सो जाते हो,
मेरे जायज़ सवालों पे तुम चुप कैसे हो जाते हो,
दिनभर मुझे रुलाते हो बस ये बता दो किस हक से,
तुम पत्थर दिल हो जाते हो बस ये बता दो किस हक से..

बेगानों से गुजर जाते

,
बेगानों से गुजर जाते है कोई बात नहीं होती,
हम उनसे रोज मिलते हैं मगर मुलाक़ात नहीं होती,
सूखे बंजर खेत जैसी जिंदगी बेहाल है,
घटाएं घिर तो आती है मगर बरसात नहीं होती..

जिन्दगी हसीन है

,
जिन्दगी हसीन है, इससे प्यार करो,
हो रात तो, सुबह का इंतजार करो,
वो पल भी आएगा, जिसका है इंतजार,
रब पर भरोसा और वक्त पे ऐतबार करो..

डाली से टूटा फूल

,
*👌डाली से टूटा फूल फिर से*🌹
 *लग नहीं सकता है🌿*
         *🍃मगर🌾*
*डाली मजबूत हो तो उस पर* 🍀
      *नया फूल खिल सकता है🌼*
*उसी तरह ज़िन्दगी में*🍁
             *खोये पल को ला नहीं सकते🌻*
      *🌸 मगर🌺*
*हौसलें व विश्वास से*
          *आने वाले हर पल को*🌴
              *खुबसूरत बना सकते हैं*।🌿


  

प्रसन्न व्यक्ति वह है, जो निरन्तर स्वयं का मूल्यांकन करते हुए सुधार करता है

,
✍🥀🥀
      *प्रसन्न व्यक्ति वह है, जो निरन्तर स्वयं का मूल्यांकन करते हुए सुधार करता है,,*
           *जबकि दुखी व्यक्ति वह है, जो सिर्फ दूसरों का मूल्याकंन करते हुए हर समय उनकी बुराई, आलोचना, निन्दा एवं ईर्ष्या करता है!!*
🔆🥀🥀
       *"ना किसी से ईर्ष्या",*
                  *"ना किसी से होड़"!*
        *"मेरी अपनी मंजिलें",*
                  *"मेरी अपनी दौड़ "!!*

मिलो किसी से ऐसे कि*

,
☘🍁🌾☘🍁🌾☘🍁🌾☘🍁
              *मिलो किसी से ऐसे कि*
                 *ज़िन्दगी भर की*
                *पहचान बन जाये,*
          *पड़े कदम जमीं पर ऐसे कि*
                 *लोगों के दिल पर*
                 *निशान बन जाये..*
              *जीने को तो ज़िन्दगी*
            *यहां हर कोई जी लेता है,*
                      *लेकिन.....*
             *जीयो ज़िन्दगी ऐसे कि*
            *औरों के लब की मुस्कान*
                    *बन जाये ...🖊*                                                   

हमेशा खुश* *रहना चाहिए

,
:🌼🐾🌾🌼🐾🌾🌼🐾🌾
               
                  *हमेशा खुश*
                *रहना  चाहिए,*
                   *क्योंकि*
               *परेशान होने से*
              *कल की मुश्किल*
                *दूर नही होती*
                   *बल्कि....*
              *आज का सुकून*
               *भी चला जाता*
                     *है !!*
          

कुछ बोलने और तोड़ने में

,
*कुछ बोलने और तोड़ने में*
            *केवल एक पल लगता है*
          *जबकि बनाने और मनाने में*
            *पूरा जीवन लग जाता है।*
                       *प्रेम सदा*
          *माफ़ी माँगना पसंद करता है,*
                 *और अहंकार सदा*
          *माफ़ी सुनना पसंद करता है..
     

Tuesday, May 29, 2018

मान लेते हैं कि,* *किस्मत में लिखे फैसले

,
*मान लेते हैं कि,*
*किस्मत में लिखे फैसले*
*बदला नहीं करते.*
*लेकिन*
*आप फैसले तो लीजिये,*
*क्या पता,*
*किस्मत ही बदल जाय

*"कद्र"* करनी है तो *"जीते जी

,


    *"कद्र"* करनी है तो *"जीते जी"* करें
*"मरने"* के बाद तो *"पराए"* भी रो देते हैं
आज *"जिस्म"* मे *"जान"* है तो
        देखते नही हैं *"लोग"*
जब *"रूह"* निकल जाएगी तो
          *"कफन"* हटा हटा कर देखेंगे
*किसी ने क्या खूब लिखा है*
            *"वक़्त"* निकालकर
*"बाते"* कर लिया करो *"अपनों से"*
अगर *"अपने ही"* न रहेंगे
          तो *"वक़्त"* का क्या करोगे
*"गुरुर"* किस बात का... *"साहब"*
आज *"मिट्टी"* के ऊपर
          तो कल "मीट्टीकै नीचे.

रात सुबह का इंतज़ार नहीं करती"

,
*💞"रात सुबह का इंतज़ार नहीं करती",*
      *"खुशबु मौसम का इंतज़ार नहीं करती".!*
      *"जो भी ख़ुशी मिले उसका आनंद लिया करो",,*
      *"क्योंकि जिंदगी वक़्त का इंतज़ार नहीं*
       *करती"..!💞*

              

बात इतनी मीठी रखो*

,
*बात इतनी मीठी रखो*
                    *की*
        *कभी वापिस लेनी*
             *पड़ जाए तो*
           *ख़ुद को कड़वी*
                *ना लगे*            

शायद मैं इसीलिए पीछे हूं

,
🍓शायद मैं इसीलिए पीछे हूं
      मुझे होशियारी नही आती

बेशक लोग ना समझे मेरी वफादारी
          मगर 'यारो मुझे गद्दारी नही आती🍓

ये दोस्ती का रिश्ता

,
ये दोस्ती का रिश्ता भी कितना अजीब होता है…….
दूरिया होते हुए भी दिल कितने करीब होता है……..!!!
नही देखते हम रंग,जाति और हैसियत को क्यों की ये सभी रिस्तो से ज़्यादा अजीज होता है……..!!!!

मुझे नही मतलब

,
*मुझे नही मतलब कौन किसके साथ कैसा है.*

*जो मेरे साथ अच्छा है वो मेरे लिए अच्छा है...*

ना पूछ मेरा रंग , मैं कितनी मौज में हूँ*

,
*ना  पूछ मेरा रंग , मैं कितनी मौज में हूँ*


*दुनिया में  मौहब्बते फैलाकर  एक मौहब्बत की खोज में हूँ*

फलदार पेड़ और गुणवान

,
*🍃"फलदार पेड़ और गुणवान*
        *व्यक्ति ही झुकते है,*
*सुखा पेड़ और मुर्ख*
        *व्यक्ति कभी नहीं झुकते ।*
*कदर किरदार की होती है*
     *… वरना…कद में तो साया भी*
*इंसान से बड़ा होता है..!!"🍃.*                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                               
🙏🏽आपका दिन मंगलमय रहे🙏🏽

चन्द्रगुप्त ने पुछा

,
*🍃 चन्द्रगुप्त ने पुछा 🍃*
                *अगर किस्मत*
    *पहले ही लिखी जा चुकी है तो,*
      *कोशिश कर के क्या मिलेगा ?*

        *🍃 चाणक्य ने कहा 🍃*
*क्या पता किस्मत में लिखा हो की,*
    *कोशिश करने से ही मिलेगा.!!* 

*मेरे "अपनों " में..

,
*ना जाने कौन-कौन से विटामिन हैं,*
    *मेरे "अपनों " में...!*

*एक दिन याद ना करूँ उनको*
*तो सारा दिन कमजोरी सी महसूस होती है...!!*
सुप्रभात 💐
🙏🏼

रिश्तों को शब्दों का

,
*रिश्तों को शब्दों का ,*
 *मोहताज  ना बनाइये ..*

 *अगर अपना कोई खामोश हैं तो*
 *खुद ही आवाज लगाइये ..!!*
*************************

सफलता

,
*"सफलता" भी फीकी लगती है, यदि कोई "बधाई देने वाला" नहीं हो।*
*और "विफलता" भी सुन्दर लगती है, जब आपके साथ "कोई अपना खड़ा" हो।*

    ना दूर रहने से रिश्ते टूट जाते हैं*
                   *और*
   *ना पास रहने से जुड़ जाते हैं*
*यह तो एहसास के पक्के धागे है*
                   *जो*
             *याद करने से*
     *और मज़बूत हो जाते है।
   *🌞🌞सुप्रभात🌞🌞*
             

आपकी आँखों को

,


*आपकी आँखों को*
                      *जगा दिया हमने;*
*सुबह का फ़र्ज़ अपना*
                     *निभा दिया हमने;*
 
            *मत*
     *सोचना कि बस*
*यूँ ही तंग किया हमने;*

                       *उठकर*
           *सुबह भगवान के साथ*
      *आपको भी याद किया हमने*

छोटे थे।"* *हर बात 'भुल' जाया करते थे।*

,
*"छोटे थे।"*
*हर बात 'भुल' जाया करते थे।*

*दुनिया कहती थी कि,*
*"याद" रखना सीखो...।*

            *"बड़े हुए।"*
*अब हर बात 'याद' रहती हैं।*

*तो दुनिया कहती है कि,*
       *"भूलना" सीखो….!!*

जीवन में किसी को रुलाकर*

,
*जीवन में किसी को रुलाकर*
    *हवन भी करवाओगे तो*
       *कोई फायदा नहीं*

 *और अगर रोज किसी एक*
*आदमी को भी हँसा दिया तो*
             *मेरे दोस्त*
     *आपको अगरबत्ती भी*
   *जलाने की जरुरत नहीं*

           *कर्म ही असली भाग्य है*

मुस्कान और मदद ये दो

,
*मुस्कान और मदद ये दो*
         *ऐसे इत्र हैं जिन्हें जितना*
        *अधिक आप दूसरों पर*
           *छिड़केंगे उतने ही*
       *सुगन्धित आप स्वंय होंगे...*

       

जब से परीक्षा वाली जिंदगी

,
👌Nice line
       *जब से परीक्षा वाली जिंदगी*
                   *पूरी हुई है,*
         *तब से जिंदगी की परीक्षा*
                 *शुरु हो गई है..*
 *आज मुझे एक नया अनुभव हुआ*
               *अपने मोबाइल से*
      *अपना ही नंबर लगाकर देखा,*
                  *आवाज आयी*
*The Number You Have Call*
                  *Is Busy.....*
               *फिर ध्यान आया*
        *किसी ने क्या खुब कहा है..*
*औरो से मिलने मे दुनिया मस्त है      पर,*
   *खुद से मिलने की सारी लाइने*
                     *व्यस्त है..*
      *कोई नही देगा साथ तेरा
                       *यहॉं,*
        * गिरना भी खुद है*
    *संभलना भी खुद है*.
🌹🌹 Good Morning 🌹🌹
🌹🌹Have Nice Day 🌹🌹

जीवन में खुशी

,
🐾☀🐾
*✍“जीवन में खुशी का अर्थ लड़ाइयाँ लड़ना नहीं, बल्कि उन से बचना है ।*
        *कुशलता पूर्वक पीछे हटना भी अपने आप में एक जीत है ।”*
      *🌺 क्योकि 🌹*
*"अभिमान" की ताकत फरिश्तो को भी "शैतान" बना देती है, और*
*"नम्रता" साधारण व्यक्ति को भी  "फ़रिश्ता" बना देतीहै ।*
       *🌹हँसते रहिये हंसाते रहिये🌹*
         *🌹सदा मुस्कुराते रहिये🌹*
                    *🐚☀🐚*
           
          *🙏🌷Have a nice day🌷,👍

Monday, May 28, 2018

ऐ कान्हा

,
ऐ कान्हा
, आँसु इतने मंहगे कर दे,
 की किसी की आखो मे,
आ ना सके… और हंसी इतनी सस्ती कर दे,
की हर किसी के, होंठो पर हर समय,रह सके…

तुमसे सदा लिया ही मेने लेती लेती थकी नहीं

,
तुमसे सदा लिया ही मेने लेती लेती थकी नहीं
अमित प्रेम सौभाग्य मिला, पर मैं कुछ भी दे सकी नहीं
मेरी त्रुटि, मेरे दोषों को तुमने देखा नहीं कभी।
दिया सदा,देते ना थके तुम, दे डाला निज प्यार सभी॥

पल पल हर पल तुमको

,
पल पल हर पल तुमको
पुकारू
जनम जनम से बाट निहारु
कर दे कृपा तोपे तन मन वारू
अपने बाग का फूल समझ कर
प्रेम करो कृष्णा प्रेम करो कृष्णा..

*तारीफ़

,

शख़्सियत अच्छी होगी तभी दुश्मन बनेंगे

,
*शख़्सियत अच्छी होगी तभी दुश्मन बनेंगे
,*
*वरना बुरे की तरफ़ देखता ही कौन है,*

*पत्थर भी उसी पेड़ पर फेंके जाते है जो फलों से लदा होता है,*
*क्या देखा है किसी को सूखे पेड़ पर पत्थर फेंकते हुए ।।*

            *🌞सुप्रभात🌞*
        *💐Good Morning 💐*
       *🙏आप का दिन मंगलमय हो🙏*

तारीफ़ अपने आपकी* *करना फ़िज़ूल है

,
🙏🙏🙏🙏🙏

*तारीफ़ अपने आपकी*
*करना फ़िज़ूल है,*
*ख़ुशबू तो ख़ुद ही बता*
*देती है,कौन सा फ़ूल है*

*जरूरी नही की*
       *हर समय जुबा पर*
     *भगवान का नाम आये*❗

       *वो लम्हा भी भक्ति*
        *का होता है, जब*
  *इंसान-इंसान के काम आये*‼
     💐 *शुभप्रभात
* 💐.

इन्सानियत

,
*मै भले ही वो काम नहीं*
     *करता, जिससे भगवान*
     *मिले.....*
     *पर वो काम जरुर करता*
     *हूँ जिससे दुआ मिले ।*

     *इन्सानियत दिल में होती*
      *है, हैसियत में नहीं.....*
      *ऊपर वाला केवल 'कर्म'*
      *देखता है वसीयत नहीं !!!*
   
      👌👏 **👏👌
            शुभ प्रभात
🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹

*क्या लाईन लिखी है लिखने वाले ने.

,
*क्या लाईन लिखी है लिखने वाले ने.......*

*जमीन जल चुकी है, आसमान बाकी है।*
*सूखे कुँए तुम्हारा, इम्तहान बाकी है।*

*बरस जाना वक्त पर हे। मेघ....*
*किसी का मकान गिरवी है, किसी का लगान बाकी है*
🙏🏻🙏🏻
*🐾"ॐ"🐾*
*✍🏻बंद किस्मत के लिये कोई ताली नही होती।..*
*सुखी उम्मीदों की कोई डाली नही होती।*
*जो झूक जाए माँ -बाप के चरणों में ।...*
*उसकी झोली कभी खाली नही होती*
                ¸.•*""*•.¸
              *🌹💐🌹*
      *""सदा मुस्कुराते रहिये""*           
           💐शुभ दिवस💐

सूर्योदय अभिवादन

,
*_🌞⛅☀सूर्योदय अभिवादन☀⛅🌞_*
🌿🌟🌿🌟🌿🌟🌿🌟🌿🌟🌿
*✍धन आते ही सुख मिलेगा कोई गारंटी नही ,किन्तु , ईन्सानियत आते ही जीवन सुखमय बनेगा, इसमे कोई संदेह नही ....*
   *😊मुस्कुरा कर चलते🚶 रहिए..!!😊*
🌿🌟🌿🌟🌿🌟🌿🌟🌿🌟🌿
   *_🌻🌻🙏🏻llसुप्रभातम् ll🙏🏻🌻🌻_*
         *_🌹आपका दिन मंगलमय  रहेl🌹_*

बेगानों

,
बेगानों से गुजर जाते है कोई बात नहीं होती,
हम उनसे रोज मिलते हैं मगर मुलाक़ात नहीं होती,
सूखे बंजर खेत जैसी जिंदगी बेहाल है,
घटाएं घिर तो आती है मगर बरसात नहीं होती..

रिश्ता

,
*👌NICE LINE
👌*                                                                      रिश्ता वो नहीं होता जो
        दुनिया को दिखाया जाता है,
रिश्ता वह होता है,जिसे
           दिल से निभाया जाता है,
अपना कहने से कोई
                  अपना नहीं होता,
अपना वो होता है जिसे
         दिल से अपनाया जाता है

गलती जीवन का एक पन्ना है

,
🌾💞 *गलती जीवन का एक पन्ना है*
        *लेकिन रिश्ता पूरी किताब है*
                  *जरुरत पड़ने पर*
           *गलती का पन्ना फाड़ देना*
      *लेकिन एक पन्ने  के लिए पूरी                                किताब कभी ना खो देना*💞

आज का सुविचार

,
🌹🌺🌸🌼🌻🍂🎍🥀🌷💐🌹
  🌹🌺 *।। आज का  सुविचार ।।*🌺🌹

*इस जीवन का पैसा*
 *अगले जन्म में काम नहीं आता*
     *मगर इस जीवन का पुण्य*
*जन्मो  जन्म तक काम आता है*

किसी ने पूछा इस दुनिया में आपका अपना कौन

,
*🍃किसी ने पूछा इस दुनिया में आपका अपना कौन हैं..,*

*मैंने हंसकर कहा-- *समय!!* 🍃

*🍃अगर वो सही, तो सभी अपने, वरना कोई नहीं...........*

*🌷आपका दिन शुभ हो*🌷

Sunday, May 27, 2018

अचानक एक मोड़ पर सुख और दुःख की मुलाकात

,
*अचानक एक मोड़ पर सुख और दुःख की मुलाकात
हो गई*
          *🌹दुःख ने सुख से कहा🌹*
          *तुम कितने भाग्यशाली हो*
*जो लोग तुम्हें पाने की कोशिश में लगे *रहते हैं....🙏🏻*
         *🌸सुख ने मुस्कराते हुए कहा🌸*
         *भाग्यशाली मैं नहीं तुम हो...!*
   *दुःख ने हैरानी से पूछा : - "वो कैसे*
*सुख ने बड़ी ईमानदारी से जबाब  दिया 👍🏼*
*वो ऐसे कि तुम्हें पाकर लोग अपनों को याद करते हैं 🙏🏻*
*लेकिन मुझे पाकर सब अपनों को भूल जाते हैं*             

   

*"चलते रहने से ही सफलता है,*

,
*"चलते रहने से ही सफलता है,*
          *रुका हुआ तो पानी भी बेकार हो जाता है...!"*
*"अच्छी सोच, अच्छी भावना*,
          *अच्छा विचार मन को हल्का करता है....!"*
  *"मुसीबत सब पर आती है,*
          *कोई बिखर जाता है*
            *और कोई निखर जाता है...!"*
    🙏जय श्री राधे कृष्णा🙏

शख़्सियत अच्छी होगी तभी दुश्मन बनेंगे,*

,
*शख़्सियत अच्छी होगी तभी दुश्मन बनेंगे,*
*वरना बुरे की तरफ़ देखता ही कौन है,*

*पत्थर भी उसी पेड़ पर फेंके जाते है जो फलों से लदा होता है,*
*क्या देखा है किसी को सूखे पेड़ पर पत्थर फेंकते हुए ।।*

            *🌞सुप्रभात🌞*
       
       *🙏आप का दिन मंगलमय हो🙏*

भाग्य और झूठ के साथ

,
*भाग्य और झूठ के साथ*
*जितनी ज्यादा उम्मीद करोगे,*
*वो उतना ही ज्यादा निराश करेगा,*
*और..*
*कर्म और सच पर जितना जोर दोगे,*
*वो उम्मीद से सदैव ही ज्यादा देगा.!!*

हर एक लिखी हुई बात को

,
हर एक लिखी हुई बात को
हर एक पढ़ने वाला नहीं समझ सकता

“क्योंकि” लिखने वाला
“भावनाएं” लिखता है
और
लोग केवल “शब्द” पढ़ते हैं।

कल एक लड़की से पूछा

,
कल एक लड़की से पूछा
लगता आप अपने bf से
बहुत प्यार करती हो...!

लड़की-- नही जी...
bf तो इसलिए बनाया है ताकि
बाकी लड़के तंग ना करे ...!!
😌😊😊

.........................................

कोई मुझे बताएगा कि

जो लोग कही के नही रहते .

.
..

वो कहा पर रहते है |?
😜😜


....?..................

गुरूजी :- मंदिर में पुरूष ही
          पुजारी क्यों होते हैं ?


पप्पू :- ताकि लोग
       भगवान पर ध्यान दें          😜😝😂
 

Shayaribazar Copyright © 2011 | Template design by O Pregador | Powered by Blogger Templates