Friday, May 20, 2016

एक शब्द है....

,
एक शब्द है (मुकद्दर)
इससे लड़कर देखो तुम
हार ना जाओ तो कहना,

 एक शब्द है (आँसू)
दिल में छुपा कर रखो
तुम्हारी आँखों से ना निकल जाए तो कहना,


 एक शब्द है (मोहब्बत)
इसे कर के देखो तुम
तड़प ना जाओ तो कहना,


 एक शब्द है (जुदाई)
इसे सह कर तो देखो
तुम टूट कर बिखर ना जाओ तो कहना,


एक शब्द है (वफा)
जमाने में नहीं मिलती कहीं
ढूंढ पाओ तो कहना,


 एक शब्द है (ईश्वर)
इसे पुकार कर तो देखो
सब कुछ पा ना लो तो कहना
 

Shayaribazar Copyright © 2011 | Template design by O Pregador | Powered by Blogger Templates